cow loan scheme
WhatsApp Group Join Now
Telegram Group Join Now

cow loan scheme खेती-क‍िसानी के साथ-साथ पशुपालन भी क‍िसानों की जीव‍िका का एक प्रमुख साधन है. इसल‍िए अध‍िकांश क‍िसान अब पशुपालन भी करते हैं. इसके ल‍िए सरकार आर्थ‍िक तौर पर मदद भी देती है. नाबार्ड यानी राष्ट्रीय कृषि और ग्रामीण विकास बैंक इसके ल‍िए बड़ी योजना चलाता है. पशु खरीदी और डेयरी ईकाई स्थापित करने के लिए 5 लाख रुपये का लोन दिया जा रहा है. नई योजना के तहत यह राशि अब 12 लाख रुपये कर दी गई है. यही नहीं डेयरी यून‍िट स्थाप‍ित करने के ल‍िए अब 25 फीसदी मिलने वाली सब्सिडी को बढ़ाकर 50 प्रतिशत कर द‍िया गया है. ज‍िससे क‍ि अध‍िक से अध‍िक लोग पशुपालन से जुड़ें.

अब पशुपालन के लिए 12 लाख रुपये का लोन मिलेगा. जिसमें 50 प्रतिशत सब्सिडी भी मिलेगी. पशुपालन को बढ़ावा देने के लिए यह कदम उठाया जाएगा. ताकि डेयरी उद्योग को गति मिल सके. साथ ही पशुपालन और डेयरी क्षेत्र में काम करने वाले किसानों को स्वरोजगार भी मिलेगा. cow loan scheme इसकी घोषणा छत्तीसगढ़ के कृषि मंत्री बृजमोहन अग्रवाल ने बुधवार को कामधेनु विश्वविद्यालय अंजोरा के दूसरे दीक्षांत समारोह में की.

cow loan scheme

👉अभी करे पशुपालन लोन के लिए आवेदन👈

नाबार्ड पशुपालन लोन योजना क्या है?

नाबार्ड पशुपालन लोन योजना के तहत कर्ज की राशि आवेदक को आवश्यकताओं के अनुसार निर्धारित की जाती है. पशु खरीदने की ऋण की राशि 50 हजार रुपये से 12 लाख रुपये तक होती है. डेयरी फार्मिंग के लिए ऋण की राशि दस लाख रुपये से पच्चीस लाख रुपये तक हो सकती है. जानकारों ने बताया क‍ि नाबार्ड पशुपालन लोन योजना दो प्रकार से उपलब्ध है.

cow loan scheme पहला पशु क्रय ऋण, ज‍िसके तहत पशुओं की खरीद के लिए पैसा द‍िया जाता है. दूसरा डेयरी फार्मिंग के लिए म‍िलता है. ज‍िसके तहत डेयरी फार्मिंग के लिए आवश्यक बुनियादी ढांचे और उपकरणों की खरीद के लिए पैसा दिया जाता है.

ये भी देखे : एक लोन चल रहा है और दूसरे की पड़ गई है जरूरत ऐसे करे अप्लाई होंगे कई फायदे

क‍ितना लगता है ब्याज

नाबार्ड पशुपालन लोन योजना के तहत, ऋण की ब्याज दर 6.5 फीसदी से 9 फीसदी प्रति वर्ष तक है. ऋण लौटने की अवधि 10 वर्ष तक होती है. नाबार्ड पशुपालन लोन योजना के तहत, SC/ST आवेदकों को 33.33 फीसदी तक की सब्सिडी प्रदान की जाती है. अन्य आवेदकों को 25 फीसदी तक की सब्सिडी प्रदान की जाती है.

ये भी देखे : मोबिक्विक ऐप के जरिए फटाफट दे रहा है 30,000 रुपये तक का कर्ज

नाबार्ड पशुपालन लोन योजना के लिए दस्तावेज

आवेदन पत्र
पहचान प्रमाण
आवेदक का पता प्रमाण पत्र
आवेदक का आय प्रमाण पत्र
पशुपालन व्यवसाय की प्लान‍िंग
आवेदन पत्र नाबार्ड की वेबसाइट या किसी भी नाबार्ड-प्रायोजित बैंक से प्राप्त किया जा सकता है.
आवेदन पत्र को संबंधित बैंक में जमा किया जाना चाहिए. cow loan scheme

👉जाणे योजना संबंधित पुरी जनकारी👈

क्या है मकसद

नाबार्ड पशुपालन लोन योजना का मकसद ग्रामीण क्षेत्रों में रोजगार पैदा करना, डेयरी उद्योग को बढ़ावा देना और किसानों की आय बढ़ाना है. इसके तहत किसानों को कम ब्याज दरों पर पैसा म‍िल जाता है. cow loan scheme ऋण लौटाने की अवधि 10 वर्ष होती है. इसके ल‍िए ग्रामीण क्षेत्र का निवासी होना जरूरी है. साथ ही डेयरी फार्मिंग शुरू करने के ल‍िए जमीन होनी चाहिए.

ये भी देखे : फुलर्टन इंडिया इन्स्टंट लोन

कहां करें आवेदन

cow loan scheme सबसे पहले आपको ये तय करना आवश्यक है कि आप किस प्रकार का डेयरी फॉर्म खोलना चाहते हैं. आप नाबार्ड योजना के तहत डेयरी फार्म की शुरुआत करना चाहते हैं तो इसके ल‍िए ज‍िले के नाबार्ड ऑफिस में जाईए. यदि छोटा डेयरी फॉर्म खोलना हैं तो अपने नजदीकी बैंक में जाकर जानकारी ले सकते हैं. बैंक में आपको सब्सिडी फॉर्म भर कर उसमें अप्लाई कर देना है. लोन की राशि बड़ी है तो प्रोजेक्ट रिपोर्ट जमा करनी होगी. इससे संबंध‍ित और जानकारी के ल‍िए आप नाबार्ड की हेल्पलाइन 022-26539895/96/99 पर संपर्क कर सकते हैं.


Discover more from

Subscribe to get the latest posts sent to your email.

WhatsApp Group Join Now
Telegram Group Join Now

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!

Discover more from

Subscribe now to keep reading and get access to the full archive.

Continue reading